July 7, 2020

क्वारंटीन सेंटर में बिखरी ईद की खुशियां, ईदी पाकर खिल उठा चेहरा, एसडीएम दिव्या वैष्णव ने मुस्लिम युवती को अपनी तरफ से ईदी दी।

भिलाई। कोरोना संक्रमण के दौर में क्वारंटीन सेंटर से जहां आमजन दूर रहता है, वहीं समाज का एक वर्ग ऐसा भी है जो अपना कत्र्तव्य निभाते हुए यहां खुशियां बिखेरने में भी आगे है। ऐसा ही मौका सोमवार को ईदुलफित्र पर आया, जब धमधा के प्री मेट्रिक अनु. जाति/जनजाति बालक छात्रावास क्वारंटाइन सेंटर में एसडीएम दिव्या वैष्णव, जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी और समाजसेवी संस्था गोल्डन एंपथी (जीई) फाउंडेशन की पहल पर ईद की खुशियां मनाई गई।
यहां जीई फाउंडेशन की ओर से सोमवार को राशन सामग्री ,सब्जियों के साथ 25 नई चादर, महिलाओं के लिए सैनिटरी नैपकिन का वितरण पूर्व निर्धारित था। जिला प्रशासन के अधिकारी और फाउंडेशन के सदस्य जब यहां पहुंचे तो पता लगा कि क्वारंटीन लोगों में एक मुस्लिम युवती भी है जो किसी कार्यवश दूसरे शहर गई हुई थी और लौटने पर उसे घर जाने से पहले एहतियातन क्वारंटीन किया गया है।
एसडीएम दिव्या वैष्णव ने उस युवती को बुलाया और उसका हालचाल पूछा तथा ईद की मुबारकबाद दी। युवती ने बताया कि ईद पर उसकी मां व दूसरे परिजन भी यहां आए थे। इस दौरान त्यौहार का मौका देखते हुए यहां खीर बनवाई गई और सभी लोगों में इसका वितरण किया गया।
एसडीएम दिव्या वैष्णव ने मुस्लिम युवती को अपनी तरफ से ईदी दी। इसके साथ ही फाउंडेशन के लोगों ने भी अपनी तरफ से युवती को ईदी दी। सबने एक साथ खीर का जायका लिया और ईद की मुबारकबाद दी।
क्वारंटीन सेंटर में ईद मुबारक के इस माहौल को देखकर वहां ठहराई गई युवती भी बेहद भावुक हो गई और उन्होंने सभी का शुक्रिया कहा। सभी ने इस मौके पर कामना की कि युवती जल्द अपने घर अपने परिजनों के बीच पहुंचेगी।
इस मौके पर जीई फाउंडेशन की ओर से प्रदीप पिल्लई, मृदुला शुक्ला और स्वाति पंडवार तथा जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम दिव्या वैष्णव के साथ तहसीलदार रामकुमार सोनकर भी मौजूद थे।

अपने मित्रों के साथ शेयर करें