December 2, 2020

जिनपिंग ने कहा, उइगर पर न हो रहम

Spread the love

पेइचिंग । चीन के शिनजियांग प्रांत में लाखों उइगर मुस्लिमों को नजरबंदी शिविरों में रखे जाने की खबरें अकसर आती रही हैं। लेकिन हाल ही में लीक हुए चीन के सरकारी दस्तावेजों से पता चलता है कि वहां अल्पसंख्यक उइगर मुस्लिमों को किस तरह से उत्पीडऩ का सामना करना पड़ रहा है। लीक डॉक्युमेंट्स के मुताबिक चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने खुद ही एक आदेश जारी कर कहा था कि चरमपंथ और अलगाववाद पर कोई रहम न किया जाए। चीन के शिनजियांग सूबे में नजरबंदी शिविरों में दस लाख से ज्यादा उइगर और अन्य मुस्लिम अल्पसंख्यकों को रखा गया है। दस्तावेजों में शी के कुछ, पूर्व के अप्रकाशित भाषणों के साथ ही उइगर आबादी पर निगरानी और नियंत्रण को लेकर दिए गए निर्देश व रिपोर्ट शामिल हैं। लीक दस्तावेजों से यह भी लगता है कि इस कार्रवाई को लेकर पार्टी के अंदर कुछ असंतोष भी था। ये दस्तावेज चीनी राजनीतिक व्यवस्था से जुड़े एक अनाम शख्स ने लीक किए जिसने यह उम्मीद जताई कि यह खुलासा शी समेत नेतृत्व को बड़े पैमाने पर हिरासत के दोष से बचने से रोकेगा।