March 2, 2021

पुलिस पर हमला करने वाले 60 हजार के इनामी बदमाश सहित 3 का एनकाउंटर

Spread the love

 

उज्जैन. मध्य प्रदेश के उज्जैन (Ujjain) जिले में रविवार रात पुलिस (police) और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन बदमाशों का एनकाउंटर (Encounter) किया.उनके पैर में गोली मारी गयी. तीनों बदमाश इंदौर (indore) से कार से सड़क के रास्ते उज्जैन आ रहे थे.

बदमाशों पर पुलिस ने 60 हजार के इनाम की घोषणा कर रखी थी. बदमाशों पर पुलिस वाहन पर फायरिंग (firing) करने का भी आरोप लग चुका है. वही उनके खिलाफ नीलगंगा थाने सहित अन्य स्थानों में कई गंभीर अपराध दर्ज हैं पुलिस ने लगातार बदमाशों को सुधारने का मौका दिया लेकिन वे लगातार अपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे थे.

बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर किया हमला

घटना जिले के महाकाल थाना क्षेत्र की है. जानकारी के मुताबिक क्षेत्र के जवासिया रोड पर देर रात उस समय सनसनी मच गई, जब पुलिस ने तीन आदतन अपराधी गुंडो को आमने सामने की भिड़ंत में गोली मार दी. बता दे कि कुछ दिन पहले ही उज्जैन पुलिस ने गुंडे रौनक गुर्जर और उसके गैंग के सदस्यों का एनकाउंटर किया था और ठीक इसी तरह पैर में गोली मारी थी. प्रदेश सरकार के गुंडा मुक्त अभियान में आज भी पुलिस ने रासुका से छूटकर आया कुख्यात गुंडा मितेश उर्फ काऊ सहित करण और सोहन पटेल का एनकाउंटर करते हुए तीनो के पैर में गोली मार दी.

बदमाश मितेश उर्फ कॉउ पर है 60 हजार का इनाम

दरअसल मितेश कुछ दिन पहले ही जेल से छूटकर आया था. 31 दिसम्बर की रात को सड़क पर अपना जन्मदिन मनाने के दौरान रात को ही मितेश सहित करण और सोहन ने भी जमकर उत्पात मचाया था, जिसके बाद घटना की सूचना पर पंहुची पुलिस पर भी पथराव किया गया था. साथ ही बदमाशों ने अन्य गाड़ियों को भी नुकसान पंहुचाया था, जिसके बाद पुलिस ने मितेश उर्फ कॉउ पर 60 हजार का इनाम भी रखा था वहीं दो दिन पहले ही तीनों आरोपियों का मकान भी निगम की टीम ने तोड़ दिया था.
पुलिस ने तीनों बदमाशों के पैर में मारी गोली, इलाज जारी
उज्जैन पुलिस की माने तो पुलिस को खबर लगी कि तीनों को जवासिया रोड पर देखा गया, जिसके बाद पुलिस ने जाल बिछाकर कर तीनो बदमाशों को पकड़ना चाहा, लेकिन पुलिस पर हमला कर तीनों भागने लगे. इस मुठभेड़ में पुलिस ने तीनों का एनकाउंटर कर तीनों के पैर में गोली मार दी. फिलहाल तीनों आरोपियों को जिला अस्पताल लाया गया है, जहां उनका इलाज जारी है.