March 4, 2021

थोपटे को मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज समर्थकों ने कांग्रेस भवन में की तोड़फोड़

Spread the love

पुणे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को पुणे कांग्रेस भवन में जमकर तोड़फोड़ की. इस घटना का लाइव वीडियो वायरल हुआ है. वीडियो में 40 कार्यकर्ताओं को तोड़फोड़ करते हुए देखा गया है. पार्टी ने इन कार्यकर्ताओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है.

महाराष्ट्र में तीन दलों के गठबंधन सरकार का सोमवार को कैबिनेट विस्तार हुआ था. पुणे जिले के भोर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से जीते कांग्रेस विधायक संग्राम थोपटे के समर्थकों ने पुणे शहर कांग्रेस भवन में घुसकर जमकर तोड़फोड़ की. थोपटे के समर्थक अपने नेता को मंत्री नहीं बनाए जाने से नाराज थे.

मंगलवार शाम तकरीबन 6:30 बजे 40 कार्यकर्ता कांग्रेस भवन में घुस आए. इन कार्यकर्ताओं ने जोर-शोर से संग्राम थोपटे के समर्थन में नारेबाजी करते हुए कार्यालय के तीन-चार कमरों में पत्थरबाजी की. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने लाठी डंडों से शीशे तोड़े. कार्यालय में रखे कम्प्यूटर और टीवी स्क्रीन भी तोड़ डाले. यही नहीं, जो चीज उनके सामने आई, उसे नुकसान पहुंचाया.

एक कार्यकर्ता ने मोबाइल कैमरे पर नाराजगी की बात कही. उसने अपने नेता संग्राम थोपटे को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं करने पर नाराजगी जताई. जब ये तोड़-फोड़ हो रही थी, उस वक्त कांग्रेस भवन में सिर्फ तीन से चार कर्मचारी मौजूद थे. पार्टी प्रवक्ता रमेश नायर ने बताया कि कार्यकर्ता संग्राम थोपटे के समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे.

घटना के कुछ देर बाद ही पुलिस वहां पहुंच गई और हंगामा मचाने वाले 15-20 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया. कांग्रेस नेता रमेश बागवे ने ‘आजतक’ से बातचीत में कहा कि कांग्रेस भवन में तोड़फोड़ करने की जगह कांग्रेस आलाकमान से शिकायत करनी चाहिए थी. बागवे ने कहा कि जिन लोगों ने तोडफोड़ की है उन्हें बक्शा नहीं जाएगा. सीसीटीवी की मदद से उन्हें ढूंढकर पुलिस में इनके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा.

पुणे शहर कांग्रेस भवन में यह तीसरा वाकया है जब नाराज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने यहां तोड़फोड़ की है. इस कांग्रेस भवन की नींव देश की आजादी के पहले रखी गई थी और महात्मा गांधी ने पुणे कांग्रेस भवन के लिए संदेश भी भेजा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed