November 27, 2020

कुछ ‎विमानों में प्रीमियम श्रेणी बंद करेगी विस्तारा

Spread the love

नई दिल्ली । निजी क्षेत्र की विमानन कंपनी विस्तारा ने अपने कुछ विमानों में बिजनेस और प्रीमियम इकनॉमी क्लास हटाने का निर्णय किया है। टाटा संस और सिंगापुर एयरलाइंस की संयुक्त उपक्रम विस्तारा अपनी उड़ानों में तीन श्रेणियों के कैबिन सुविधा प्रदान करती है और शुरू से ही भारतीय बाजार में प्रीमियम ब्रांड के तौर पर खुद को अलग बताती रही है। हालांकि भारतीय बाजार में किफायती विमानन सेवा का वर्चस्व है और कड़ी प्रतिस्पर्धा की वजह से किराया बढ़ाने की गुंजाइश काफी सीमित है। पूर्ण सेवाओं वाली विमानन कंपनी की रणनीति में बदलाव से परिचालन जटिलता और ग्राहकों के बीच भम्र भी हो सकता है। एयर इंडिया और बंद पड़ी जेट एयरवेज पहले इस तरह की रणनीति आजमा चुकी है। हालांकि जेट ने बाद में अपना निर्णय बदल दिया था। विमानन सलाहकार फर्म सीएपीए की रिपोर्ट में कहा गया है ‎कि भारतीय बाजार में पूर्ण सेवा प्रदान करने वाली विमानन कंपनी की लागत किफायती विमानन कंपनियों से करीब 50 फीसदी ज्यादा है। ऐसे में वे लागत घटाने के बजाय किराये में कमी से मुकाबला करने का प्रयास करते हैं। विमानन कंपनी के बेड़े की योजना पर नजर रखने वाले सूत्रों का कहना है कि कंपनी ने 50 नैरो-बॉडी ए 320 और ए 321 विमानों के ऑर्डर दिए हैं, वहीं उसने एयरबस से कहा है कि 10 विमानों की आपूर्ति पूरी तरह से इकनॉमी श्रेणी की सुविधा वाली की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed