November 25, 2020

टेलीकॉम बिजनेस बंद, पर TATA को राहत नहीं, AGR का देने हैं 13823 करोड़

Spread the love

नई दिल्ली. TATA समूह के सामने एक बड़ी मुसीबत आ खड़ी हुई है. समूह की टेलीकॉम कंपनी टाटा टेलीसर्विसेज का मोबाइल टेलीकॉम कारोबार बंद हो चुका है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद उसे एडजेस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (AGR) का करीब 13,823 करोड़ रुपये सरकार देना है. अब टाटा समूह इसके लिए फंड जुटाने की तरकीब लगा रहा है. इसके लिए समूह की एक कंपनी टीसीएस से मदद ली जा सकती है.

ग्रुप कैसे चुकाएगा यह बकाया

टाटा समूह के एक अध‍िकारी ने इस राश‍ि को ‘अतार्किक रूप से बहुत ज्यादा’ बताया है, लेकिन कंपनी एक-एक पाई चुकाने के लिए प्रतिबद्ध है. टाटा समूह की मुख्य कंपनी टाटा सन्स ने बंद हो चुकी टाटा टेलीसर्विसेज के AGR बकाया चुकाने के लिए फंड जुटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. एजीआर का 13,823 करोड़ रुपये का बकाया चुकाने के लिए समूह की दिग्गज आईटी कंपनी टीसीएस का सहारा लिया जा सकता है.

टीसीएस देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी है. टाटा समूह की टेलीकॉम कंपनी Tata Teleservices की स्थापना 1996 में हुई थी, लेकिन इसका कारोबार सफल नहीं रहा. अगस्त 2017 में टाटा ग्रुप ने भारी घाटे की वजह से कंपनी ने अपना मोबाइल नेटवर्क एयरटेल को बेच दिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.