December 4, 2020

गंदे पानी का दरिया है तैर कर जाना है, शराब जरूर पीना है

Spread the love

बिलासपुर। शराब पीकर शासन के खजाने को भरने वाली उपभोक्ता की शुद अखबारी विभाग नहीं लेते बिलासपुर शहर के पुराना बस स्टैंड के अंदर शासन की अंग्रेजी देसी दोनों शराब दुकानें संचालित है। दुकान में पहुंचने के लिए दो मार्ग हैं दोनों की हालत खराब है शायद शासन की नजर में शराब पीकर शासन को लाखों रुपए देने वाला नागरिक एक उपभोक्ता की हैसियत नहीं रखता तभी तो दुकान के सामने हजारों की संख्या में प्लास्टिक की गिलास हुआ बोतलें पड़ी है। पानी निकासी व्यवस्था ना होने के कारण एक और बदबूदार पानी मैदान में जमा है दूसरी ओर प्रशासन की व्यवस्था ना होने के कारण इसी पानी में नागरिक मूत्र विसर्जन कर नगर पालिक निगम के स्वच्छता अभियान, स्मार्ट सिटी, गढ़वो नया छत्तीसगढ़ को आईना दिखा रहे हैं इस असामान्य परिस्थितियों के साथ इसी क्षेत्र में शराब दुकान के ठीक सामने औद्योगिक सुरक्षा का कार्यालय भी है इस कार्यालय में महिला कर्मी भी कार्यरत है दफ्तर के अंदर भले ही सुरुचिपर्ण सजावट हो किंतु दफ्तर के अंदर पहुंचने का मार्ग नारकीय है।