July 23, 2021

ताजमहल के आसपास प्रदूषण से निपटने के लिए सरकार ने एयर प्यूरिफायर वैन तैनात की

Spread the love

आगरा. उत्तर भारत में सर्दी का मौसम शुरू के साथ प्रदूषण का स्तर कई गुना बढ़ गया है। ऐसे में ताजमहल और यहां आने वाले पर्यटकों को सुरक्षित रखने के लिए योगी सरकार ने एयर प्यूरिफायर वैन तैनात की है। ताजमहल के आसपास लोगों को स्वच्छ हवा मुहैया कराने के लिए उत्तरप्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (यूपीपीसीबी) ने रविवार को यह फैसला लिया। अफसरों के मुताबिक, एयर प्यूरिफायर वैन 8 घंटे में 300 मीटर के दायरे में 15 लाख क्यूबिक मीटर हवा साफ करती है।
यूपीपीसीबी के एक अधिकारी के मुताबिक, वैन को ताजमहल के पश्चिमी गेट की तरफ रखा गया है, ताकि इलाके के आसपास लगातार गिरती हवा की गुणवत्ता को ठीक स्तर पर लाया जा सके। सफेद संगमरमर से बने होने के कारण ताजमहल को प्रदूषण से काफी नुकसान पहुंच चुका है। इसी को देखते हुए आगरा जिला प्रशासन ने यूपीपीसीबी की मदद से शहर में दो एयर प्यूरिफायर वैन मंगाई हैं। इन्हें 24 अक्टूबर को आगरा लाया गया था।
आगरा में हवा की गुणवत्ता खराब
अधिकारियों का कहना है कि ताजमहल के आसपास अभी कोई एयर मॉनिटरिंग स्टेशन नहीं है। ऐसे में यहां हवा की गुणवत्ता की पहचान नहीं हो पाती। एयर प्यूरिफायर वैन के इस्तेमाल से हवा कितनी साफ होगी, इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है। ताजमहल से कुछ दूरी पर स्थित संजय पैलेस में मॉनिटरिंग स्टेशन मौजूद है। यहां रविवार शाम 4 बजे एक्यूआई 293 था, जो कि खराब की श्रेणी में आता है। इससे लोगों में सांस की समस्या पैदा हो सकती है।