November 24, 2020

कलेक्टर ने धान खरीदी व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों की ली बैठक

Spread the love

गुणवत्तायुक्त धान खरीदी सुनिश्चित करने के निर्देश, कोचियों पर की जाएगी कड़ी निगरानी कोचियों द्वारा धान बेचने के मामले आने पर होगी एफआईआर
राजनांदगांव।
कलेक्टर श्री जयप्रकाश मौर्य ने धान खरीदी व्यवस्था से जुड़े विभागों के अधिकारियों की बैठक लेकर राज्य शासन के निर्देश के अनुरूप उपार्जन केन्द्रों में गुणवत्ता युक्त धान खरीदी करने के निर्देश दिए हैं। श्री मौर्य ने कहा कि जिले में इस साल 30 हजार 183 किसान नए पंजीकृत हुए हैं। इसके चलते धान खरीदी केन्द्रों में अतिरिक्त दबाव रहेगा। धान खरीदी व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों को अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। बैठक में अपर कलेक्टर ओंकार यदु, जिला खाद्य अधिकारी किशोर कुमार सोमावार, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के सीईओ सुनील वर्मा, सभी एसडीएम, तहसीलदार, राजस्व, सहकारिता, खाद्य, नापतौल, मंडी बोर्ड के अधिकारियों के साथ-साथ धान खरीदी के लिए उपार्जन केन्द्र या समितिवार नियुक्त नोडल अधिकारी उपस्थित थे।
कलेक्टर श्री मौर्य बैठक में कहा कि धान खरीदी के दौरान कोचियों पर विशेष निगरानी रखने की जरूरत है। कोचियों द्वारा धान बेचने के मामले पकड़े जाने पर एफआईआर की कार्रवाई की जाए। श्री मौर्य ने अधिकारियों से कहा कि पिछले 5 सालों में खरीदे गए धान के समितिवार आंकड़े उनके पास उपलब्ध होने चाहिए। किसानों को धान बेचने में किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं होनी चाहिए। बारदानों की नियमित आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। धान खरीदी व्यवस्था से जुड़े सभी अधिकारियों-कर्मचारियों का वाट्सअप ग्रुप बनाया जाए। गु्रप में हर दिन धान खरीदी के आंकड़े अद्यतन होने चाहिए। श्री मौर्य ने कहा किसी भी उपार्जन या समिति में गुणवत्ता विहीन धान खरीदी होने पर संबंधितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। श्री मौर्य ने धान खरीदी व्यवस्था के लिए तय किए गए 35 बिन्दुओं पर पूरी सजगता से अमल करने के निर्देश दिए। श्री मौर्य ने बैठक में अधिकारियों से धान खरीदी की तैयारियों की जानकारी भी ली। बैठक में अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने धान खरीदी के लिए अधिकारियों का जरूरी मार्गदर्शन किया।