January 28, 2021

शहर के 3.19 करोड़ के उद्यान राशि होने पर भी अधूरे

Spread the love

आंवलानवमी पर महिलाओं ने विधायक वोरा से की शिकायतÓ
दुर्ग।
शहर के 8 उद्यानों को केंद्र एवं राज्य शासन से अमृत मिशन योजना के तहत मिली 3ण्19 करोड़ की राशि पिछले दो वर्षों से निगम के खजाने में जमा है किंतु जनता स्वास्थ्य एवं मनोरंजन के लिए सिर्फ राजेन्द्र पार्क पर ही आश्रित है। निगम द्वारा अब तक सिर्फ तीन उद्यान जिसमे पद्मनाभपुरए कातुलबोड व नरसिंह विहार शामिल हैं जहां करोड़ों रुपय खर्च कर उद्यान निर्माण कार्य तो किया गया किंतु रिपेयरिंग एवं मेंटेनेन्स के लिए छह माह से निविदा करवाना भी जरूरी नहीं समझा जिससे इन उद्यानों का हश्र भी करोड़ों खर्च कर बनाई गई पुष्प वाटिका जैसा ही हो रहा है। वहीं जवाहर नगर का 56 लाख, पोटिया कला का 20 लाख, पद्मनाभपुर पूर्व का 18 लाख का उद्यान अब तक प्रारंभ नहीं हो सके जबकि आर्य नगर एवं महावीर कालोनी के उद्यान अत्यंत धीमी गति से चलने के कारण जनता को उद्यानों का लाभ नहीं मिल पा रहा है। विधायक अरुण वोरा ने राजेन्द्र पार्क में आंवला नवमी के अवसर पर पहुंच कर आम लोगों से मुलाकात की जहां बड़ी संख्या में उपस्थित महिलाओं ने शिकायत करते हुए कहा कि घर के आसपास उद्यान होने के बावजूद अधिक दूरी तय कर राजेन्द्र पार्क तक आना पड़ता है । श्री वोरा ने निगम आयुक्त से चर्चा कर शहर को ग्रीन सिटी बनाने के लिए निगम के द्वारा किए जा रहे कार्यों में लेटलतीफी के प्रति नाराजगी व्यक्त की और राशि उपलब्ध होने के बावजूद कार्य नहीं होने का कारण पूछा। जिस पर आयुक्त इंद्रजीत बर्मन ने उद्यान विकास के कार्यों को जल्द पूर्ण करने आश्वस्त किया। राजेन्द्र पार्क पहुंचे वरिष्ठ पार्षद राजेश शर्मा, दीपक साहू, प्रकाश गीते, राकेश शर्मा, धीरज बाकलीवाल, अंशुल पांडेय, भारती दुबे, शकुंतला चौबे, संगीता शर्मा आयुष शर्मा, गौरव उमरे, सहित अन्य शामिल थे।