March 1, 2021

12वां आदिवासी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम के लिए टीम रवाना

Spread the love

राजनांदगांव। नेहरू युवा केन्द्र, राजनांदगांव (युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय, भारत सरकार) एवं गृह मंत्रालय विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 12वां आदिवासी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम का आयोजन बैंगलुरू में 5 से 11 फरवरी 2020 तक आयोजित किया जा रहा है, जिसमें नेहरू युवा केन्द्र के 20 एवं आटीबीपी के 30 प्रतिभागी एवं 3 स्कार्ट सहित कुल 53 प्रतिभागियों को रवाना किया गया। इसी प्रकार चंडीगढ में 4 से 10 फरवरी तक आयोजन किया जा रहा है, जिसमें आईबीटीपी के 20 एवं 2 स्कार्ट सहित कुल 22 प्रतिभागियों को रवाना किया गया। सभी प्रतिभागियों को ट्रेकसूट, टीशर्ट, जूता, मोजा, इनर, टोपी प्रदान किया गया। सात दिवसीय आदिवासी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य विभिन्न राज्यों के आदिवासी युवाओं को अपने-अपने राज्य के सांस्कृतिक लोकाचार, भाषा, सामाजिक आर्थिक एवं सांस्कृतिक विकास को दर्शाने वाले लोगों की जीवन शैली तथा हमारे राष्ट्रीय जीवन में निहित विविधता में एकता के स्वरूप की विकासात्मक प्रक्रियाओं के विषय में जानकारी प्राप्त कर सके।
आदिवासी युवाओं का विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों, कौशल विकास, शैक्षणिक एवं रोजगार के अवसरों पर ध्यान केन्दि्रत करने के साथ-साथ उन्हें देश के अलग-अलग राज्यों में हो रही तकनिकी और औद्योगिक उन्नति के विषय में जानकारी देना। उक्त कार्यक्रम में प्रतिदिन योगा, विभिन्न विषय के विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण, सांस्कृतिक कार्यक्रम, देशभक्ति और राष्ट्र निर्माण पर भाषण प्रतियोगिता, महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर स्वच्छता अभियान, प्रभातफेरी, जनजागरूकता रैली, महिलाओं के प्रति हिंसा और अत्याचारों को रोकना, आतंकवाद को रोकना, संगोष्ठी, विषय संबंधी चर्चा, सार्वजनिक गणमान्य नागरिकों से मुलाकात, युवा कार्य में प्रसिद्व व्यक्तियों के साथ परिचर्चा, चर्चित स्थानों का भ्रमण सहित विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जावेगा।
राष्ट्रीय एकता शिविर कार्यक्रम का आयोजन नेहरू युवा केन्द्र, पलामु झारखंड द्वारा आयोजित किया जा रहा है जिसमें नेहरू युवा केन्द्र राजनांदगांव के 15 प्रतिभागियों को कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रवाना किया गया। उक्त कार्यक्रम का आयोजन 3 से 7 फरवरी 2020 तक होगा जिसमें एक-दूसरे राज्य के युवाओं द्वारा अपने राज्य की सांस्कृतिक कार्यक्रम, लोकगीत, लोकनृत्य, पंथी नृत्य के साथ-साथ विभिन्न विषय के विशेषज्ञों द्वारा प्रशिक्षण, सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जावेगा।
उक्त कार्यक्रम में जाने के पूर्व जिला युवा समन्वयक देवेश कुमार द्वारा सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएं दी गई एवं अपने तथा अपने राज्य का नाम रौशन करने का आव्हान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed