May 13, 2021

आयुक्त के मार्गदर्शन में गठित ब्लाक समिति करेगी कालोनी में मेन्टनेस

Spread the love

आईएचएसडीपी कालोनी में आवास आवंटन के बाद आवास में नहीं रहने वाले लोगों का आवंटन
निरस्त किया जाएगा  कॉलोनी निवासी स्वयं लगा रहे हैं अपने घरों के पानी निकासी के लिए पाइप

दुर्ग. उरला में निर्मित आईएचएसडीपी आवास कालोनी में कचरा फेंक कर और पानी बहा कर गंदगी करने वाले निवासियों को जुर्माना भरना पड़ा। आवास आवंटन के बाद भी कॉलोनी में निवास नहीं करने वाले हितग्राहियों का आवास आवंटन निरस्त किया जाएगा। निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के निर्देशानुसार सभी बंद पड़े आवासों के हितग्राहियों को सूचना नोटिस जारी किया गया है।
उल्लेखनीय है कि निगम आयुक्त श्री बर्मन के द्वारा आईएचएसडीपी आवास कॉलोनी में निरंतर मानिटरिंग और भ्रमण के बाद उन्होंने कॉलोनी के ऊपर हिस्से में रहने वाले सभी लोगों से अपील कर कहा की वह अपने घरों का पानी निकासी के लिए पाइप लगवाएं । यह कार्य अपने स्वयं के खर्च से करायें । आयुक्त के अपील के बाद निवासी अपने-अपने ब्लाकों में निस्तारी के बाद वेस्ट पानी निकासी के लिए पाइप लगवा रहे हैं। निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के मार्गदर्शन में इस कालोनी के आगे-पीछे संपूर्ण क्षेत्र में व्यापक स्तर पर साफ-सफाई कराने के बाद कालोनी को स्वच्छ रखने प्रत्येक ब्लाक स्तर पर समिति का गठन कराया गया है। सफाई के दौरान कालोनी निवासियों को कचरा बाहर नहीं फेकने और गंदगी नहीं करने की हिदायत दी गई थी। निगम अमले ने आज जाकर निरीक्षण किया जहाॅ विभिन्न ब्लाकों के निवासियों द्वारा कचरा बाहर फेका गया था गंदगी फैलायी गई थी एैसे 10 निवासियों से कुल 3100 रु0 जुर्माना वसूल कर दोबारा कचरा फेककर गंदगी नहीं करने की चेतावनी दी गई है। अन्यथा इसके बाद अधिक राशि जुर्माना लेने कहा गया है। कार्यवाही के दौरान सहा0 राजस्व निरीक्षक योगेश सूरे, स्वच्छता निरीक्षक मेनसिंग मंडावी, उमेश चंद्राकर, उमेश यादव, शंकर यादव उपस्थित थे।
उल्लेखनीय है कि आईएचएसडीपी आवास कालोनी में निरंतर सफाई अभियान चलाकर कालोनी के आगे-पीछे सभी जगह से कचरा उठवाया गया। नालियों की सफाई की गई। कालोनी के ब्लाकों में ऊपर के आवासों में रहने वालों के द्वारा निस्तारी पानी को खुले में बहाया जाता था इससे आस-पास गंदगी रहता था साथ ही ऊपर के लोग कचरा ऊपर से ही फेक देते थे। सभी को समझाईश दिया गया था कि कोई भी कचरा नहीं फेकेगा। और पानी निकासी के लिए वे पाइप लगवायें। इसके अंतर्गत ब्लाक निवासियों द्वारा अपने खर्चे पर पानी निकासी के लिए पाइप लगवाया रहे है वहीं कचरे को एकत्र कर रख रहे हैं। जिन लोगों ने कचरा बाहर फेकते थे उनमें वसुंधरा सदन में 4 लोगों को 200-200 रु0 जुर्माना किया गया उसी प्रकार मनोरमा सदन में 3 लोग, कोसी सदन ममें 2, केलो सदन में 3 लोग, कावेरी सदन में 3 निवासियों से जुर्माना वसूल किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may have missed