January 18, 2021

करॉना वायरस: घर-घर में चेकिंग, कोई चीन से तो नहीं आया?

Spread the love

नई दिल्ली. करॉना वायरस को लेकर दिल्ली में भी सर्विलांस शुरू कर दिया गया है। दिल्ली सरकार के डायरेक्टर जनरल हेल्थ सर्विसेज ने ऐसे 17 हजार लोगों की स्क्रीनिंग शुरू कर दी है, जो हाल ही में चीन से आए हैं और दिल्ली में ठहरे हुए हैं। इसके लिए सर्विलांस टीमें बना दी गई हैं, जो घर-घर और होटल-होटल जाकर ऐसे लोगों की पहचान कर रही है। लक्षण मिलते ही उन्हें अस्पताल पहुंचाया जाएगा।

डीजीएचएस ने दिल्ली सरकार के अपने सभी प्रमुख अस्पतालों आइसोलेशन वॉर्ड को ऐक्टिव कर दिया है और इस वायरस से बचाव के लिए 4 लाख मास्क मंगवा कर बांट दिए हैं। करॉना वायरस के इलाज और बचाव के लिए डॉक्टर, नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ को ट्रेनिंग भी दी जा चुकी है। डीजीएचएस डॉक्टर एसएम रहेजा ने कहा कि हमने लोगों को जागरूक करना शुरू कर दिया है और इसके लिए सभी 12 जिलों में कंट्रोल रूम बना दिया गया है।

डॉ. रहेजा ने बताया कि सर्विलांस के लिए हमें केंद्र सरकार से ऐसे लोगों की ट्रैक लिस्ट मिली है, जो हाल ही में चीन से आए हैं। चाहे चीनी नागरिक हो या भारतीय, अगर वह दिल्ली में ठहरे हैं या हाल ही में चीन से आए हैं तो हम उनकी सर्विलांस कर रहे हैं। डॉक्टर ने कहा कि इसके लिए हमने डीएम और डीसी स्तर पर हर जिले में सर्विलांस टीम बनाई है, जो ऐसे लोगों तक पहुंच कर उनकी जांच कर रही है। हम सभी को ट्रैक कर रहे हैं, उनसे मिल कर पूछताछ कर रहे हैं।

लक्षण मिलने पर उन्हें आइसोलेट भी कर रहे हैं। डॉक्टर ने कहा कि दिल्ली में कई चीनी नागरिक भी हैं, जो हाल ही में चीन से यहां आए हुए हैं, हम उनकी भी स्क्रीनिंग कर रहे हैं। कुछ लोगों को आरएमएल में एडमिट कराया गया है। डॉक्टर ने कहा कि अच्छी बात यह है कि अभी तक दिल्ली में कोई पॉजिटिव केस नहीं आया है।

आइसोलेशन वॉर्ड ऐक्टिव
डॉ. रहेजा ने बताया कि हमारे कई प्रमुख अस्पतालों में एच1एन1 वायरस के वॉर्ड बंद थे। उन सभी को कोरोना वायरस के लिए आइसोलेशन वार्ड के तौर पर एक्टिव कर दिया है। फीवर वॉर्ड भी एक्टिव हैं। दिल्ली सरकार के कई प्रमुख अस्पतालों में एलएनजेपी, डीडीयू, जीटीबी में ऐसे वॉर्ड बने हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.