November 26, 2020

जावेद अख्तर की सोशल मीडिया पर लगी क्लास, तुम शाहीन बाग, जफराबाद, चांद बाग पर चुप थे

Spread the love

नई दिल्ली। जब दुनिया की दो सबसे बड़ी शख्सियत लोगों को संबोधित कर रही थीं,तब दिल्ली को सुलगाने की साजिश चल रही थीं। उत्तर पूर्वी दिल्ली में नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर खूब हिंसा भड़की। इस हिंसा में एक पुलिसवाले के साथ छह लोगों की मौत हो चुकी हैं, करीब 76 लोग घायल हैं। इसके बाद जावेद अख्तर ने ट्वीट किया है, जिस पर वह खुद ही ट्रोल हो गए हैं। जावेद अख्तर ने ट्वीट में कहा कि दिल्ली में हिंसा का स्तर किस कदर बढ़ गया है। सभी कपिल मिश्रा बेपर्दा हो रहे हैं। ऐसा माहौल बनाया जा रहा है कि आम निवासियों को ये यकीन दिलाया जा सके कि ये सब सीएए के विरोध-प्रदर्शन के कारण हो रहा है। इस ट्वीट के बाद जावेद अख्तर खुद ट्रोल के शिकार हुए। एक यूजर ने ट्वीट किया है कि थोड़ी शर्म करो, खुदा को क्या दिखाओ गे कयामत के दिन। जावेद अख्तर, तुम्हारी बौद्धिक बेईमानी अब समझ में आ रही है ।गोली चलाई इस्लामिक आतंकवादी शाहरुख ने, मरा हिन्दू कांस्टेबल रतन लाल। विधवा पत्नी तीन मासूम बच्चे बिलख रहे हैं। और दोषी कपिल मिश्रा।असली दोषी तो आप जैसे लोग हैं,जो असली दोषियों को चतुराई से बचाते हैं। बेईमान कहीं के। एक यूजर ने लिखा कि कपिल मिश्रा ने रास्ता छोड़ने को कहा तो दंगा भड़काना हो गया। वारिस पठान 100करोड़ बनाम 15 करोड़ वाली धमकी देकर भाईचारा मजबूत कर रहा था। एक ने जावेद अख्तर से सवाल कर लिया कि एक पुलिसवाले की मौत पर कोई कुछ नहीं बोल रहा। आतंकवादी की मौत पर सारे बोलने आ जाते हैं।
एक यूजर ने लिखा कि तुम और तुम्हारा परिवार मौका देखकर सेक्युलर,कम्युनल बन जाता है। फ़िल्म रिलीज़ करनी हो तो देशभक्त बन जाता है। तुम शाहीन बाग, जफराबाद, चांद बाग पर चुप थे। वाह रे बुद्धिजीवी, एक यूजर ने तो यह भी लिखा- खूब घी डाला है तुमने इस आग में।