November 30, 2020

राष्ट्रीय पत्रकारिता कार्यशाला में इन्द्रजीत भोज जमकर गरजे

Spread the love

कटनी में श्रमजीवी पत्रकार संघ का संभागीय सम्मेलन सम्पन्न
वर्तमान पत्रकारिता एवं समाज पर हुई परिचर्चा
बालाघाट । मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ का जबलपुर संभागीय सम्मेलन गत दिवस कटनी में सम्पन्न हुआ। जिसमें बालाघाट श्रमजीवी पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष इन्द्रजीत भोज के नेतृत्व में श्रमजीवी पत्रकार ने शिरकत कि कटनी डिग्री कॉलेज में आयोजित संभागीय सम्मेलन के साथ – साथ राष्ट्रीय पत्रकारिता कार्यशाला का आयोजन भी संभागीय इकाई के द्वारा आयोजित किया गया था। परिचर्चा का विषय वर्तमान पत्रकारिता और समाज रखा गया था, संभागीय सम्मेलन में मण्डला, सिवनी, छिन्दवाड़ा, नरसिंहपुर, कटनी, बालाघाट एवं जबलपुर इकाई के श्रमजीवी पत्रकारों ने बड़ी संख्या में भाग लिया। कार्यक्रम की शुरूआत मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ के प्रदेशाध्यक्ष शलभ भदौरिया, वरिष्ठ पत्रकार राजेश बादल, डिजियाना भोपाल के ब्यूरो रिजवान अहमद सिद्दकी ने माँ सरस्वती का पूजन अर्चना कर की। तत्पश्चात सभी अतिथियों का संभागीय इकाई ने शाल – श्रीफल से सम्मान किया।
संभागीय सम्मलेन के पश्चात राष्ट्रीय पत्रकारिता कार्यशाला प्रारंभ हुई, जिसमें परिचर्चा के विषय वर्तमान पत्रकारिता एवं समाज रखा गया था। टी. वी. एवं प्रिंट मीडिया के प्रख्यात पत्रकार राजेश बादल ने अपने विचार रखते हुए कहा कि वर्तमान दौर में पत्रकारिता का विषय दौर चल रहा है। प्रतिर्स्पधा की दौड़ में खासतौर पर टी. वी. चैनल पहले खबर प्रसारण के चक्कर में कुछ का कुछ दर्शकों के सामने परोस रहे है। दिल्ली में हुई हिंसा और दंगाफसाद में भी मीडिया की भुमिका उतनी प्रभावशाली नही रही। उन्होने अदम्य गोडंवी के मशहूर शेर हिन्दू या मुस्लिम के अहसासात को मत हेडिये अपनी कुर्सी के लिए जज्बात को मत हेडिये। डी. एन. एन. के सम्पादक रिजवान अहमद सिद्दकी ने अपने उद्दगार व्यक्त करते हुए कहा कि हमें समाज में रहकर पत्रकारिता करनी है तो सामाजिक सरोकारों से जुड़े विषयों को उठाये। प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के साथ-साथ आज – कल सोशल मीडिया भी बहुत अधिक प्रभावशाली हो गया है और यह हमारे घरो तक पहुच गया है सोशल मीडिया से हमें सिर्फ अच्छी बाते ही उठानी चाहिए। प्रान्तीय अध्यक्ष शलभ भदौरिया ने राष्ट्रीय पत्रकारिता कार्यशाला में उद्दगार व्यक्त करते हुए कहा कि आज के पत्रकार को टी. आई., तहसीलदार, कलेक्टर या फिर नेता की गोद में नही बैठाना चाहिए, स्वार्थ, लालच और धनलोलुपता का त्याग कर सामाजिक राष्ट्रहीत की खबरें प्रमुखता से प्रकाशित करना चाहिये किन्तु आजकल पत्रकारो का दोहरा स्वरूप देखने मिल रहा है पत्रकारिता कि आड़ में व्यापार, व्यवसाय किया जा रहा है जो सर्वया निंदनीय है। मध्यप्रदेश श्रमजीवी पत्रकार संघ जिला इकाई बालाघाट के अध्यक्ष इन्द्रजीत भोज ने अपने उदबोधन में कहा कि आज कि स्थिति में पत्रकारों को लोग प्रश्नवाचक दृष्टि से देखते है हम सामाजिक है और हमें समाज की बुराई और विषमताओं को खत्म करने की कोशिश करना चाहियें। बालाघाट इकाई पत्रकारिता के साथ-साथ सामाजिक सरोकर से जुड़ी रहती है। साहित्यकि, सांस्कृतिक, सामाजिक कार्यक्रमों के साथ क्रीड़ा गतिविधियों का आयोजन लगातार प्रतिवर्ष बालाघाट के पत्रकार करवाते है। जिससे समाज के सभी लोगो से मेल मिलाप बढ़ता है, सद्भाव कायम रहता है। संभागीय सम्मेलन एवं राष्ट्रीय पत्रकारिता कार्यशाला में अध्यक्ष इन्द्रजीत भोज, देवदत्त धानेश्वर, राकेश शर्मा, राजेश नगपुरे, रवि, रोहित, रितेश एवं जयकिशन इत्यादि शामिल रहे।