December 5, 2020

कृषि के साथ पशुपालन को बढ़ावा देने से बढ़ेंगे आर्थिक अवसर-रविन्द्र चौबे

Spread the love

दुर्ग. छत्तीसगढ़ कामधेनु विश्वविद्यालय दुर्ग के द्वारा ग्राम धमधा विकासखण्ड धमधा शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान में भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद की अनुसूचित जाति उपयोजना अन्तर्गत ‘‘बकरी पालन में उद्यमिता विकास एवं बकरी इकाई वितरण कार्यक्रम‘‘ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथी श्री रविन्द्र चौबे माननीय मंत्री कृषि पशुधन विकास, मत्स्य पालन, डाॅ. एन. पी. दक्षिणकरण् कुलपति छ.ग. कामधेनु वि.वि. दुर्ग कुलसचिव, डाॅ.पी. के मरकाम, डाॅ. ओ. पी मिश्रा निदेशक अनुसंधान, डाॅ. एस. के तिवारी अधिष्ठाता पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय अंजोरा, दुर्ग छ.ग., डाॅ. शरद मिश्रा निदेशक विस्तार, डाॅ सुधीर उपरित अधिष्ठाता छात्र कल्याण, श्रीमति सुनीता गुप्ता, नगर पंचायत अध्यक्ष धमधा, श्रीमती सावित्री रात्रे जनपद अध्यक्ष धमधा श्री प्रकाश मेश्राम जनपद मुख्यकार्यपालन अधकारी धमधा डाॅ सत्यम मिश्रा पशुचिकित्सा सहायक अध्यक्षा श्री ए.के. लहरे, ए.वी.एफ.ओ. पशुचिकित्सा विभाग कार्यक्रम में मंत्री के हाथों से हितग्राहियों को बकरी ईकाई, दाना, दवाइयाॅ आदि का भी वितरण किया गया।
  कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे ने बकरी पालन के लिए लोगों को प्रोत्साहित करते हुए हितग्राहियों को बधाई दी तथा इस दिशा में कार्य करने प्रोत्साहित किया तथा छ.ग. कामधेनु विश्वविद्यालय के प्रयासों को सराहा। विश्वविद्यालय के कुलपति ने भी इस संबंध में विस्तार से जानकारी दी।
        कार्यक्रम के आयोजन में डाॅ. नीलू गुप्ता सह निदेशक अनुसंधान, डाॅ. आर. सी. रामटेके, डाॅ श्रद्धा नेही एवं डाॅ. राजकुमार गड़पायले सहायक प्राध्यापक पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय अंजोरा दुर्ग का महत्वपूर्ण योगदान रहा।