March 1, 2021

कोरोना वायरस की संदिग्ध महिला को ससुराल व मायके से भगाया

Spread the love

गिरिडीह ,दिल्ली से लौटी एक महिला को कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज समझकर अफरातफरी मच गई। गिरिडीह में सुसराल पहुंचने पर सर्दी-खांसी देख उसे कथित रूप से भगा दिया। इसके बाद वह मायके देवरी स्थित भलवाई पहुंची तो मायकेवाले भी डर गए और फौरन इलाज करवाने की सलाह देते हुए अपने से दूर कर दिया। पति के साथ रहने पर भी उसे अपनों ने घर में नहीं रहने दिया। अब स्वास्थ्य विभाग उसे खोज रहा है।

इधर, दिल्ली से लौटी महिला की तबीयत खराब होने पर स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया। देवरी की स्वास्थ्य इकाई ने महिला की खोज कर उसे 108 एम्बुलेंस से गिरिडीह भेजा। वहां प्राथमिक उपचार या जांच की व्यवस्था होती, इससे पहले ही वह एम्बुलेंस कर्मी को चकमा देकर अपने पति संग बाइक से फरार हो गई। महिला के फरार होने की घटना से देवरी स्वास्थ्य विभाग परेशान हो गया।

इस दौरान सूचना मिली कि महिला राजधनवार में एक प्राइवेट अस्पताल में इलाज करा रही है। हिन्दुस्तान ने उसके पति से फोन पर बात की तो उसने पत्नी को सुसराल से भगाने की बात को झूठा बताया। कहा कि उसे चक्कर और उलटी की शिकायत थी, जिस कारण बाइक से राजधनवार इलाज कराने लाए हैं।

एसपी ने सूचना दी थी कि दिल्ली से एक महिला आई है, उसे सर्दी-खांसी है। जब टीम ने महिला से सम्पर्क का प्रयास किया तो वह बाइक से किसी के साथ फरार हो गई। -डॉ. एस सान्याल, आरसीएच पदाधिकारी सह प्रभारी सीएस।

पीड़िता भलवाई देवरी की है। वह दिल्ली से शनिवार रात लौटी थी। उसे 108 एम्बुलेंस से भेजा गया। इस बीच वह राजधनवार में इलाज कराने की बात कहकर चली गई। उसकी खोज की जा रही है। -सत्येन्द्र सिंह, चिकित्सा प्रभारी देवरी।