November 26, 2020

निजी स्कूल अपने छात्रों और छात्राएं की अप्रैल और मई माह की मासिक फीस ना ले -अय्यूब

Spread the love

दुर्ग -अय्यूब खान पुर्व अध्यक्ष युवा कांग्रेस दुर्ग लोकसभा ने प्रदेश के सभी निजी स्कूलस के प्राचार्य और उनके संचलक से से मांग की है कोरोना जैसे महामारी की वजह से पूरा देश और प्रदेश बंद या लौकडाऊन है जिसकी वजह से गरीब और माध्यम वर्गीय परिवार अपने पालन पोषण को लेकर चिंतित है अपने खान पान और भी बहुत जरूरी चीज़ो के लिये आज़ इंसान की जरुरी चीज़ो में भोजन , स्वास्थ्य और शिक्षा आता है ।भूपेश बघेल सरकार नें ग़रीब और मध्यम वर्गीय परिवार के लिये भोजन और स्वास्थ के लिये जरूरी कदम उठाया जा रहा । जो प्रदेश की भूपेश सरकार की तारीफ के काबिल है ।

आगामी दिनो नया शिक्षा सत्र 1 अप्रैल से शुरु होने वाला है और अभिभावको निजी स्कूल्स में लंबी मासिक फीस या प्रवेश फीस लिये जाता है ऐसे में सीधे सीधे मध्यम वर्गीय परिवार को पढ़ने वाला कूछ ग़रीब परिवार के लिये राहत तो शिक्षा अधिकार अधिनियम में बच जाएंगे । लेकीन बहुत से मध्यम और ग़रीब परिवार को के लिये विकराल समस्या उत्पन्न होने वाला है क्यूँकि बंदी के वजह से कारोबार बंद है रोजगार बंद इन परिस्तिथियों में ।
अय्यूब खान नें इस विषय पर प्रदेश सरकार संज्ञान ले और उचित हल निकाले और साथ सभी निजी स्कूल के संचालक और प्राचार्य से मांग करते है कम से कम अप्रैल और मई माह की सभी फीस को ना लेकर इन वर्गो का सहयोग करे

You may have missed