June 12, 2021

कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करना अनिवार्य

Spread the love

रायपुर। दिल्ली की निजामुद्दीन में मरकज में शामिल हुए 20 लोगों को जिला प्रशासन ने कोरबा में ट्रेस कर लिया है। इनमें से पंद्रह लोग राताखार की अंजुमन इस्लाहुल मुस्लमीन मस्जिद में रूके हुए थे जबकि पांच लोगों को कोरबा शहर में अलग.अलग जगहों से चिन्हांकित किया गया है। मस्जिद में रूके हुए सभी 15 लोग दिल्ली या उसके आसपास के क्षेत्रों के हैं जबकि अन्य पांच लोग मरकज में शामिल होने कोरबा से निजामुद्दीन गये थे।
कोरोना वायरस के संक्रमण और उसके फैलाव की आशंका को लेकर इन सभी लोगों को आइसोलेट कर लिया गया है। जिला प्रशासन ने दिल्ली या उसके आसपास के सभी 15 लोगों को गेवरा के सीआईटी हास्टल शक्तिनगर में आइसोलेशन में रखा है वहीं कोरबा निवासी पांच लोगों को रसियन हास्टल में बने क्वारैंटाईन सेंटर में रखा गया है। मरकज में शामिल हुए तबलीगी जमात के इन सभी 20 लोगों के स्वास्थ्य पर विशेष नजर रखी जा रही है। इन्हें सेनेटाईजर और मास्क जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराये गये हैं। साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करनेए लाक डाउन के दौरान निर्धारित जगहों से बाहर नहीं निकलने और शासन द्वारा समय.समय पर जारी किये गये दिशा निर्देशों की पूरी जानकारी भी इन्हें दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.