June 12, 2021

राजनांदगाव एस पी की पत्नी ने खोला जरूरतमंदों के लिए रसोई का द्वार,
रोजाना 70 लोगों को खिला रही खाना

Spread the love


राजनांदगांव । कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए जहां एक ओर समाजसेवी संस्थाएं और प्रशासन लोगो की मदद के लिए सामने आया है। छत्तीसगढ़ में लॉक डाउन के दौरान गरीब एवं असहाय लोगों की मदद के लिए समाजसेवी संस्थाओं सहित लोग व्यक्तिगत रुप से खजाना खोल दिया है। वही एसपी की पत्नी भी घर में 70 लोगों का खाना बनाकर, उन्हें उनके घर तक पहुंचाने का काम कर रही है।
राजनांदगांव के आईपीएस अधिकारी जितेंद्र शुक्ला की धर्मपत्नी श्रीमती संगीता शुक्ला यह कार्य कर रही है । एसपी जितेंद्र शुक्ला का अभी हाल ही में महासमुंद से राजनांदगांव ट्रांसफर हुआ है।उनकी पत्नी महासमुंद में रहकर रही है। श्रीमती संगीता शुक्ला अपने घर का कार्य करने के अलावा दो बच्चों की देखभाल करने के साथ-साथ रोजाना 70 लोगों का खाना बना रही है और उसकी पैकिंग कर उन लोगों तक पहुंचा रही है जिन्हें दो वक्त के भोजन की समस्या लॉक डाउन के दौरान आन पड़ी है। उनके इस कार्य में जीत फाउंडेशन के सदस्य भी साथ दे रहे हैं। श्रीमती शुक्ला सुबह 11से 12के बीच इन 70 लोगों का खाना तैयार कर लेती है और उन्हें बांटने भी जाती है। भोजन देने से पहले लोगों का हाथ सैनिटाइजर से धूलवाती है और उन्हें रोज दिन में 8 से 10 बार हाथ धोने के अलावा सोशल डिस्टेंस बनाये रखने की समझाइश देती है।
बेटे ने भी दिया कोरोना से बचने का संदेश
एसपी जितेंद्र शुक्ला के दो बच्चे हैं। पहली बिटिया है और दूसरा बालक। बालक विशु ने सोशल मीडिया के माध्यम से एक वीडियो जारी किया। जिसमें कोरोना से बचने के लिए सेनीटाइजर का उपयोग कैसे करना है और लोगों से दूरियां बनाए रखने जैसा संदेश दिया है।