October 27, 2020

रायपुर में बाजार खुलते ही भीड़ उमड़ी, ध्वस्त हुई व्यवस्था

Spread the love

छत्तीसगढ़ के रायपुर में मंगलवार सुबह अनलॉक होते ही सारी व्यवस्था और निर्देश ध्वस्त हो गए। सब्जी मंडियों में ऐसी भीड़ उमड़ी की सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ गईं। यहां तक कि लोगों को समझाने के लिए कलेक्टर और एसपी को खुद सड़क पर उतरना पड़ा। यही हाल बिलासपुर में भी रहा। वहीं, सरगुजा और अंबिकापुर में भी सब खुल गया है।

शहर की बड़ी सब्जी मंडियों में शामित डूमतराई और शास्त्री बाजार में सुबह होते ही लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। शास्त्री बाजार की व्यवस्था संभालने खुद कलेक्टर और एसपी को सड़क पर उतरना पड़ा। इसके बाद भी हालात भयानक थे। ऐसी ही स्थिति डूमतराई में भी है। यहां सुबह से ही जोन 10 के कमिश्नर अरुण साहू पहुंचे हुए थे। वह बार-बार लोगों से दूरी बनाने और मास्क पहने रहने की अपील करते रहे।

प्रशासन की ओर से जारी की गई गाइडलाइन में सख्ती से पालन करने के आदेश दिए गए हैं। रायपुर में दुकानें सिर्फ रात 8 बजे तक ही खुल सकेंगी। हालांकि होटल और रेस्टोरेंट को रात 10 बजे तक होम डिलीवरी के लिए छूट दी गई है। इस दौरान मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर समेत नियमों का पालन अनिवार्य रहेगा। वहीं पहले बारी-बारी से दुकानें खुलती थीं, लेकिन अब सभी एक साथ खोली जाएंगी।
मंत्रालय, डायरेक्टोरेट और सभी सरकारी दफ्तर आज से खुल गए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग से जारी आदेश के मुताबिक मंत्रालय व इंद्रावती भवन स्थित कार्यालयों में अधिकारियों व कर्मचारियों की उपस्थिति साप्ताहिक रोस्टर के मुताबिक अधिकतम एक तिहाई होगी। कर्मचारियों को मंत्रालय व इंद्रावती भवन आने के लिए ज्यादा से ज्यादा निजी वाहनों का प्रयोग करने को कहा गया है।

जिला प्रशासन के आदेश के बाद मंगलवार से अंबिकापुर में भी लॉकडाउन खत्म हो गया है। यहां भी सभी दुकानें और बाजार आज से खुल गए हैं। दुकानें शाम 7 बजे और होटल रात 9 बजे तक ही खुल सकेंगे। वहीं प्रशासन ने हर मंगलवार को लॉकडाउन रखने के आदेश दिए हैं। हालांकि यह आदेश 29 सितंबर के बाद से लागू होगा। इसके बाद सप्ताह में एक दिन मंगलवार को सब बंद रहेगा।