February 28, 2021

मुख्यमंत्री विभिन्न विकास कार्यों का करेंगे लोकार्पण एवं भूमिपूजन

Spread the love


रविशंकर स्टेडियम में दोपहर 3 बजे होगा कार्यक्रम 
दुर्ग, 26 सितम्बर 2019/ मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल आज रविशंकर स्टेडियम में दोपहर 3 बजे लगभग 85 करोड़ रुपए के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे। इस अवसर पर जिले के प्रभारी मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, गृह एवं पीडब्ल्यूडी मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू,  कृषि एवं जलसंसाधन मंत्री श्री रविन्द्र चैबे, पीएचई एवं ग्रामोद्योग विभाग के मंत्री श्री गुरु रुद्र कुमार, श्रम एवं नगरीय प्रशासन मंत्री श्री शिव डहरिया, सांसद श्री विजय बघेल, विधायक दुर्ग श्री अरुण वोरा, विधायक एवं महापौर भिलाई नगर श्री देवेंद्र यादव, विधायक वैशाली नगर श्री विद्यारतन भसीन, विधायक बेमेतरा श्री आशीष छाबड़ा, महापौर नगर निगम दुर्ग श्रीमती चंद्रिका चंद्राकर, अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती माया बेलचंदन भी उपस्थित रहेंगे। 
इस अवसर पर नगर निगम दुर्ग के 81 करोड़ रुपए के कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन होगा। मोर मकान-मोर चिन्हारी योजना अंतर्गत 15 करोड़ 94 लाख रुपए के लागत से बने 312 आवासों का लोकार्पण होगा। 9 करोड़ 11 लाख रुपए की लागत से बने नल घर शापिंग काम्प्लेक्स का लोकार्पण भी इस अवसर पर होगा। 3 करोड़ 79 लाख रुपए के लागत से बने गंज मंडी शापिंग काम्प्लेक्स का लोकार्पण भी इस अवसर पर होगा। नगर निगम दुर्ग में मोर मकान मोर चिन्हारी योजना अंतर्गत सरस्वती नगर में 30 करोड़ 57 लाख रुपए की लागत से बनने वाले 638 आवासों का भूमिपूजन होगा। वार्डों में 9 करोड़ 49 लाख रुपए की लागत से होने वाले 131 निर्माण कार्यों का भूमिपूजन भी होगा। अमृत मिशन अंतर्गत 4 करोड़ 23 लाख रुपए की लागत से बनने वाली 4 पानी टंकियों का शिलान्यास भी होगा। 2 करोड़ 34 लाख रुपए की लागत से बनने वाले पुलगांव नाला डायवर्सन का शिलान्यास किया जाएगा। इसके अलावा सांसद-विधायक निधि अंतर्गत 5 करोड़ 71 लाख रुपए की लागत से 83 कार्यों का भूमिपूजन भी किया जाएगा। इस मौके पर जिला चिकित्सालय दुर्ग में 3 करोड़ 96 लाख रुपए की लागत से विविध कार्यों का भूमिपूजन भी होगा जिसमें 98 लाख रुपए की लागत से चाइल्ड वार्ड विंग एवं एनएससीयू गायनिक वार्ड विंग का मरम्मत एवं जीर्णोद्धार कार्य, 85 लाख रुपए की लागत से महिला वार्ड विंग एवं बर्न वार्ड विंग का जीर्णोद्धार कार्य, 94 लाख रुपए की लागत से ड्रेनेज संबंधी कार्य एवं 1 करोड़ 18 लाख रुपए की लागत से रजिस्ट्रेशन विंग का मरम्मत एवं जीर्णोद्धार कार्य शामिल है।