December 5, 2020

ओलंपिक पदक की तैयारियों में लगी हैं सिंधू

Spread the love

चेन्नई । महिला बैडमिंटन स्टार पी वी सिंधू ने कहा कि ओलंपिक पदक की उम्मीदों से उनपर किसी प्रकार का दबाव नहीं होता है। वहीं उन्हें अधिक प्रयास करने की प्रेरणा ही मिलती है। सिंधू ने कहा, ‘रियो में ओलंपिक पदक जीतने के बाद से मेरी जिंदगी काफी बदल गई है। मैंने कई मैच जीते और कुछ में मुझे हार मिली। जब मैं रियो गयी तो तब मुझसे इतनी अधिक उम्मीदें नहीं थी पर अब लोग मुझसे स्वर्ण पदक की उम्मीद कर रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘जब हर कोई मुझसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद करता है तो मैं इसे सकारात्मक तौर पर देखती हूं। मैं इसे अतिरिक्त दबाव के रूप में नहीं देखती और इससे मुझे अधिक कड़ी मेहनत करने की प्रेरणा मिलती है। यह आसान नहीं होगा लेकिन मैं आगे की चुनौतियों के लिए तैयार हूं।’ सिंधु ने कहा कि ओलंपिक वर्ष में पीबीएल में खेलना अच्छा है क्योंकि यहां शीर्ष खिलाड़ियों से खेलने का मौका मिलेगा जो मददगार साबित होगा। उन्होंने कहा कि हमें पीबीएल में शीर्ष विदेशी खिलाड़ियों से खेलने का अवसर मिलता है जो कि ओलंपिक वर्ष में सहायक रहेगा। हमें विदेशी खिलाड़ियों से काफी कुछ सीखने को मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.