March 5, 2021

शुरुआत में नस्लभेद के मामलों पर ध्यान नहीं देते थे पेन और कमिंस

Spread the love

मेलबर्न । ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम के कप्तान टिम पेन ने कहा है कि नस्लभेद के खिलाफ जारी ब्लैक लाइव्स मैटर (बीएलएम) अभियान से पहले वह इन बातों पर अधिक ध्यान नहीं देते थे। वहीं टीम के उप कप्तान पैट कमिंस ने अश्वेत लोगों के प्रति टिप्पणी करने की बात स्वीकार की है जिसपर अब उन्होंने दुख व्यक्त किया है। पेन ने कहा कि पहले वह नस्लवाद की समस्या के बारे में अधिक नहीं सोचते थे क्योंकि इसका प्रभव उन पर नहीं पड़ता था पर बीएलएम अभियान ने उनके रुख को बदल दिया। पेन ने कहा, ‘‘ब्लैक लाइव्स मैटर अभियान के शुरू होने के बाद पिछले 12 महीने में मेरा नजरिया बदला है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर मैं कहूं तो मैं संभवत: वह व्यक्ति था जो इन चीजों की थोड़ी अनदेखी करता था और संभवत: यह मेरी दुनिया का हिस्सा नहीं था, इसलिए मेरे लिए यह कोई बड़ा मामला नहीं था।’’ पेन ने कहा, ‘‘इसने चीजों और हमारे मूल निवासियों, अश्चेत लोगों और दुनिया भर में विभिन्न संस्कृतियों के लोगों को जिन चीजों का सामना करना पड़ रहा है उन मुद्दों को लेकर मेरी आंखें खोल दी। ’’ इस तेज गेंदबाज ने कहा, ‘‘आप कोई टिप्पणी करते हो और इसके बाद सुनिश्चित करते हो कि आप असल में इस पर गौर करें। मैं इस पर विश्वास नहीं करता था, मुझे नहीं पता था कि मैंने ऐसा क्यों कहा और मुझे नफरत है कि मेरी वजह से उस व्यक्ति ने कैसा महसूस किया।’’ वहीं पेन ने कहा कि उन्होंने टीम के अपने साथियों से उनके अनुभव के बारे में बात की और इससे उन्हें चीजों को बेहतर तरीके से समझने में मदद मिली।